India के ग्रामीण इलाकों की खबरें, साथ ही साथ खेल, मनोरंजन, राजनीती, शिक्षा, बाजार सम्बंधित सभी वायरल हलचल सबसे तेज।

मौसम विभाग ने दी चेतावनी: राजस्थान में इस दिन दस्तक देगा मानसून

जोधपुर। मारवाड़ में लगातार पड़ रही भीषण गर्मी के कारण लोगों का हाल बेहाल है। भीषण गर्मी से त्रस्त जनजीवन अब मानसून का इंतजार कर रहा है लेकिन वह इस बार वह लंबा इंतजार करने वाला है। मौसम विभाग ने पहले 6 जून और अब 8 जून को आगमन संभावित बताया है लेकिन मानसून की चाल धीमी है। वह 8 दिन विलम्ब पर है और गति यही रही तो 10 जुलाई तक ही राजस्थान पहुंच पाएगा। दरअसल देश में मा
नसून प्राय: एक जून के आसपास केरल पहुंच जाता है लेकिन इस बार अब तक इसके संकेत नहीं मिले है। अभी श्रीलंका तक पहुंचा है और संभवत: 2 दिन बाद भारत पहुंचेगा। वहीं राजस्थान में मानसून एक जुलाई तक आता है लेकिन इस बार आसार है कि 10 जुलाई तक ही आ पाएगा। मौसम विभाग का कहना है कि इस बीच प्रदेश में कम हवा के दबाव क्षेत्र की स्थिति बनी तो मानूसन को गति मिल जाएगी। ऐसे में मानसून जल्दी पहुंच सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार 2018 में मानसून 27 जून को आया था लेकिन कम हवा दबाव का क्षेत्र बनने के बाद 2 ही दिन में उसने पूरे राजस्थान को छू लिया था। बता दे कि गर्मी के दिनों में तापमान उच्च रहता है और हवा का हल्की हो जाती है। इससे कम वायु दबाव का क्षेत्र बनता है। ऐसे में अधिक वायु दबाव वाले क्षेत्र से हवाएं आकर स्थान लेती है। ये हवाएं महासागर से आती है जिनमें नमी होती है। दक्षिण से आने के कारण उन्हें दक्षिणी हवाएं कहा जाता है। हवाएं देश के दक्षिणी-पश्चिमी गर और बंगाल की खाड़ी से आने हवाएं उत्तर की ओर बढ़ती है। ये जून के प्रथम सप्ताह में असम तक पहुंच जाती है। आगे जाकर ये हिमालय से टकराकर पश्चिम की ओर से मुड़ जाती है। मानसून 15 जून तक आधे भारत में फैल जाता है। यहां अरबसागर और बंगाल की खाड़ी की हवाएं भी मिल जाती है। ये पश्चिम और उत्तर वाले प्रदेश हरियाणा, पंजाब, राजस्थान में एक जुलाई तक पहुंच जाती है। मानसून 10 से 15 जुलाई तक उड़ीसा, बिहार, छत्तीसगढ़ और झरखंड तक पहुंचता है।

No comments:

Post a Comment